वॉरेन बफेट कौन हैं (Warren Buffett Kon Hai)?

नमस्कार मित्रों, आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताने जा रहे हैं कि वॉरेन बफेट कौन हैं (Warren buffett kon hai);

मैं आपकी जानकारी के लिए आपको बता देना चाहता‌ हूँ कि वॉरेन बफेट एक ऐसे शख्स हैं; जिन्हें शेयर बाजार का किंग कहा जाता है; 

इनके निवेश करने की स्ट्रैटजी आज भी लोगों की जेहन में घूमता हैं; और यही नहीं उनकी शेयर मार्केट से कमाई हुई दौलत के बारे में जानकर हर कोई हक्का-बक्का रह जाता है। 

आज इस पोस्ट में हम इस शख्स के बारे में विस्तार से जानेंगे; तो चलिए पोस्ट में आगे बढ़ते हैं; और जानते हैं कि वाकई वॉरेन बफेट कौन है (Warren buffett kon hai);

वॉरेन बफेट कौन हैं (Warren Buffett Kon Hai)?

वॉरेन बफेट कौन हैं (Warren Buffett Kon Hai) और वारेन बफेट अमीर कैसे बनें?

वॉरेन बफेट, अमेरिका के जाने-माने महान निवेशकों में से एक हैं; इन्हें शेयर मार्केट का किंग भी कहा जाता है; ये अपनी खुद की कंपनी ‘बर्कशायर हाथवे’ के सीईओ हैं. 

लोग वॉरेन बफेट को शेयर मार्केट का महान जादूगर भी कहते हैं; इन्हें मूल्य निवेश का जनक और लंबी अवधि के निवेश का महान खिलाड़ी भी कहा जाता है।

इनकी इंवेस्टमेंट स्ट्रैटजी इतनी सफल रही हैं कि वे इसके दम पर आज दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक बन गए हैं।

वॉरेन बफेट मुख्य रूप से एक अमेरिकी इंवेस्टर, बिजनेसमैन और फिलांथ्रोपिस्ट हैं; इन्हें पूरी‌ दुनिया में सबसे सफल निवेशकों में से एक माना जाता है। 

यही नहीं वॉरेन बफेट “ओराकल ऑफ ओमाहा” के नाम से भी प्रसिद्ध हैं, क्योंकि ये हर तरह की परिस्थिति में धैर्य और समझदारी से काम लेते हैं।

आप याद रखिएगा कि वॉरेन बफेट बर्कशायर हैथवे कंपनी के सीईओ और सबसे बड़े शेयर होल्डर हैं।

इस महान निवेश का जन्म ओमाहा, नेब्रास्का में 30 अगस्त 1930 को हुआ था। इनके पिता भी एक शेयर ब्रोकर थे; यही वह वजह थी कि वॉरेन बफेट को बचपन से ही शेयर बाजार की जानकारी होने लगी थी। 

जैसे-जैसे वे बढ़ते गए वैसे-वैसे वे अपने पिता के नक्शे-कदम पर चलना शुरू कर दिए; उन्होंने ने बचपन से ही निवेश करना शुरू कर दिया था और उन्होंने शेयर मार्केट से जुड़ी अपनी योग्यता को बढ़ाने के लिए अपने गुरु बेंजामिन ग्राहम से निवेश की कला सीखी। 

इसके बाद उन्होंने धीरे-धीरे फाइनेंशियल मार्केट में अपनी छाप छोड़नी शुरू की और एक-एक कर ढेर सारी कंपनियों को खरीदा और उनमें अपनी हिस्सेदारी बनाई।

वॉरेन बफेट एक महान निवेशक के साथ-साथ एक महान फिलांथ्रोपिस्ट भी हैं। उन्होंने 2006 में अपनी कमाई हुई संपत्ति का आधा से ज्यादा दान में देने का निर्णय लिया था; जिसमें से वे 83% बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन को दान करने वाले थें।

वॉरेन बफेट ने अपनी जीवनी के बारे में कई किताबें भी लिखी हैं; जिनमें से एक है “द स्नोबॉल: वॉरेन बफेट और बिजनेस ऑफ लाइफ”।

वॉरेन बफेट अमीर कैसे बने?

वॉरेन बफेट के अमीर होने के पीछे की कहानी सिर्फ शेयर मार्केट का महान खिलाड़ी होना नहीं है; बल्कि उनकी अमीरी और महान सफलता के पीछे कई ऐसे सिद्धांत छुपे हैं; और इन सभी सिद्धांत को अपनाकर आप भी अपने फाइनेंशियल कंडिशन को मजबूत बना सकते हैं; 

तो चलिए एक-एक उनके 5 महत्वपूर्ण सिद्धांत को ध्यान से समझते हैं; और उनके आधार पर निवेश‌ करने का निर्णय लेते हैं।

  • लंबी अवधि में निवेश करने का नजरिया – वॉरेन बफेट हर एक नए और पुराने निवेशक को यह सुझाव देते रहते हैं कि उन्हें शेयर मार्केट से बहुत जल्दी पैसा बनाने के तरीके के बारे में नहीं सोचना चाहिए; बफेट ने हमेशा कंपनियों के लॉन्ग टर्म डेवलपमेंट पर ध्यान दिया है और वे कभी भी शॉर्ट टर्म में होने वाले उतार-चढ़ाव से घबराए नहीं.
  • मूल्य निवेश: वॉरेन बफेट हमेशा ऐसी कंपनियों में निवेश करने की सलाह देते हैं; जिन कंपनियों के शेयरों का प्राइस उनके वास्तविक प्राइस से कम होता है; निवेशकों को हमेशा उन कंपनीयों में निवेश करना चाहिए; जिनका बिजनेस मॉडल अच्छा हो, भविष्य में तरक्की करने की संभावना हो और जिनके पास बेहतरीन मैनेजमेंट टीम हो।
  • निवेश की कम लागत: वॉरेन बफेट निवेश करते समय हमेशा अनावश्यक खर्चों और कमीशन से बचते हैं; वे हमेशा कम लागत वाले इंडेक्स फंड और डायरेक्ट इंवेस्टमेंट प्लान को प्राथमिकता देते हैं.
  • धैर्य और अनुशासन: शेयर मार्केट में उतार-चढ़ाव होना आम बात है; इसलिए‌ बफेट निवेशकों को हमेशा शांत रहकर अपने निवेश फैसलों पर टिके रहने की सलाह देते हैं; वे कहते हैं कि डर या लालच में आकर कभी भी जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए।
  • लगातार सीखने की आदत – वॉरेन बफेट का कहना है कि निवेशकों को हमेशा सीखते रहने की आदत डालनी चाहिए; उन्हें लगातार कंपनियों, मार्केट के ट्रेंड्स और अर्थव्यवस्था के बारे में पढ़ते रहना चाहिए।

अंतिम दो शब्द:

वॉरेन बफेट पूरी दुनिया के निवेशकों के लिए एक प्रेरणा का स्रोत हैं, जो हमें सीखाते हैं कि धैर्य, अनुशासन और सही स्ट्रैटजी के साथ कोई भी अपने फाइनेंशियल लक्ष्य तक पहुँच सकता है।

वॉरेन बफेट के दिए हुए सिद्धांतों को अपनाकर कोई भी एक सफल निवेशक बन सकता है; और अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकता है;

तो फिर देर किस बात की; आज से ही वॉरेन बफेट की स्ट्रैटजी को अपनाने का पहला कदम आगे बढ़ाइए और अपने फाइनेंशियल फ्रीडम का जश्न मनाइए!

क्या मैं भी वॉरेन बफेट की तरह अमीर बन सकता हूं?

वॉरेन बफेट की तरह अमीर बनना मुश्किल है; लेकिन नामुमकिन नहीं; आप उनके दिए गए सिद्धांतों को अपनाकर आप भी उनकी तरह अपने फाइनेंशियल कंडिशन को काफी हद तक सुधार सकते हैं.

निवेश करने के लिए कितना पैसा चाहिए?

आप यह मानकर चलिए कि यदि आप शेयर मार्केट के बारे में सीखने के लिए तैयार हैं; तो आपको शुरुआत में निवेश शुरू करने के लिए बहुत ज्यादा पूंजी की आवश्यकता नहीं पड़ेगी; आप याद रखिएगा कि बफेट ने भी छोटे निवेश से शुरुआत की थी।

वॉरेन बफेट किन कंपनियों में निवेश करते हैं?

वॉरेन बफेट जोखिम को कम करने के लिए अलग-अलग क्षेत्र की कंपनियों में निवेश करते हैं, जैसे कि बैंकिंग, बीमा, रिटेल और उपभोक्ता वस्तुएं; लेकिन यह बात हमेशा‌ याद रखिएगा – उनके निवेश करने का आधार कंपनी का मूल्य और भविष्य में तरक्की करने की संभावनाएं होती हैं।

Leave a Comment