शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है ?

आज हम इस पोस्ट में आपको बताएंगे कि शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है; और साथ ही यह भी बताएंगे कि शेयर बाज़ार में नुकसान से बचने‌ के टिप्स क्या हैं; अगर इस पोस्ट को आप ध्यान से पढ़ लेते हैं; 

तो आप शेयर मार्केट में नुकसान कराने वाले‌ कारणों को अच्छे से समझ जाएंगे; और जब भी आप यहाँ बताए जाने वाले टिप्स के आधार पर शेयर मार्केट में निवेश करेंगे; 

तो आपको बिना किसी नुकसान के अच्छा प्रॉफिट होगा; तो चलिए पोस्ट में आगे बढ़ते हैं; और जानते हैं – शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है; और शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स क्या हैं –

शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है ?

शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है

शेयर मार्केट में नुकसान होने के कई कारण हैं; आइए एक-एक कर उन सभी कारणों को ध्यान से समझते हैं :

  1. शेयर की कीमत में गिरावट: यदि शेयर की कीमत में गिरावट आती है; तो शेयरहोल्डर उस शेयर में निवेश की गई अपनी पूंजी का कुछ हिस्सा या पूरी राशि खो सकता है।
  2. शेयरहोल्डर की गलती: शेयरहोल्डर को अपनी खुद की गलती के कारण भी शेयर मार्केट में नुकसान हो सकता है; 

उदाहरण के लिए – यदि एक शेयरहोल्डर एक खराब कंपनी में निवेश करता है या अपने खरीदे हुए शेयर को जल्दीबाजी में बेच देता है, तो भी उसे नुकसान हो सकता है।

  1. मार्केट की अस्थिरता: शेयर मार्केट अस्थिर होता है; और इसकी कीमतें लगातार ऊपर-नीचे करती रहती हैं; यदि शेयर मार्केट अचानक गिर जाता है, तो शेयरहोल्डर्स को नुकसान उठाना पड़ता है।
  2. आर्थिक मंदी: आर्थिक मंदी के समय, शेयर मार्केट आमतौर पर गिर जाता है; और इससे शेयरहोल्डर्स को नुकसान हो सकता है।

शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के लिए, निवेशकों को सावधानीपूर्वक निवेश करना चाहिए। उन्हें किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले उस कंपनी के बारे में अच्छी तरह से रिसर्च कर लेनी चाहिए। 

उन्हें अपने रिस्क उठाने की क्षमता के अनुसार निवेश करना चाहिए और अपने निवेशों की निगरानी करनी चाहिए।

यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं जो शेयर मार्केट में नुकसान से बचने में मदद कर सकते हैं:

  • अपने लक्ष्यों और जोखिम उठाने की क्षमता को समझें।
  • खुद रिसर्च करें और किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले उस कंपनी के बारे में अच्छी तरह से जांच करें।
  • एक ही कंपनी में अपने सारे पैसे न लगाएं।
  • डर को दूर रखें और अपने निवेशों के साथ धैर्य रखें।

शेयर मार्केट में निवेश करना एक जोखिम भरा इंवेस्टमेंट हो सकता है; फिर भी अगर आप सावधानीपूर्वक निवेश करते हैं और अपने रिस्क को मैनेज करते हैं; तो आप नुकसान से बच सकते हैं और लंबे समय के निवेश में अच्छा पैसा बना सकते हैं।

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स :

शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के लिए, निवेशकों को सावधानीपूर्वक निवेश करना चाहिए; उन्हें किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले उस कंपनी के बारे में अच्छी तरह से रिसर्च कर लेनी चाहिए।

उन्हें अपने रिस्क उठाने की क्षमता के अनुसार शेयर मार्केट में निवेश करना चाहिए और अपने निवेशों की निगरानी करनी चाहिए।

यहां कुछ सुझाव दिए जा रहे हैं जो आपकी शेयर बाजार में नुकसान से बचने में मदद कर सकते हैं:

अपने लक्ष्यों और रिस्क उठाने की क्षमता को समझें।

शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले, यह समझना महत्वपूर्ण है कि आपके निवेश का टार्गेट क्या है ? क्या आप लंबी अवधि में पैसा कमाना चाहते हैं या आप बहुत जल्दी पैसा बनाने की कोशिश कर रहे हैं? आप कितना रिस्क उठा सकते हैं? 

यदि आप अपने टार्गेट्स को सेट कर लेते हैं और रिस्क उठाने की क्षमता को अच्छे से समझ लेते हैं; तो इससे आपको सही जगह पर इंवेस्टमेंट करने में मदद मिलेगी।

  • खुद रिसर्च करें और किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले उस कंपनी के बारे में अच्छी तरह से रिसर्च करें।

किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले, उस कंपनी के बारे में अच्छी तरह से रिसर्च करना बहुत महत्वपूर्ण है; आपको कंपनी की फाइनेंशियल कंडिशन, उसके बिजनेस और उसके मैनेजमेंट की जानकारी होनी चाहिए; 

आप इस बात को याद रखिएगा – कंपनी के बारे में जितना अधिक आप रिसर्च करेंगे; उतना‌ ही ज्यादा शेयर मार्केट में होने वाला रिस्क कम हो जाएगा; और आपको अच्छा रिटर्न मिलेगा।

एक ही कंपनी में अपने सारे पैसे‌ न लगाएं।

याद रखिएगा – एक ही टोकरी में अपने सारे अंडे न रखें; मतलब एक ही कंपनी या बिजनेस में अपने सारे पैसे न लगाएं; क्योंकि अगर कंपनी डूबी तो आपके सारे पैसे एक बार में ही डूब जाएंगे।

इसलिए मेरी मानिए; आप अलग-अलग कंपनी के शेयर खरीदिए; और शेयर मार्केट में होने वाले अपने जोखिम कम करिए;

अलग-अलग कंपनी में निवेश करने से आपको यह लाभ होगा कि यदि एक कंपनी या बिजनेस खराब प्रदर्शन करता है, तो आपके बाकी इंवेस्टमेंट से नुकसान को कम करने में मदद मिलेगी।

  • अपने इंवेस्टमेंट पर फोकस रखें और आवश्यकतानुसार एडजस्ट करें।

मार्केट की स्थिति और अपनी व्यक्तिगत परिस्थितियों में बदलाव के अनुसार अपने इंवेस्टमेंट पर फोकस रखना बहुत महत्वपूर्ण है;

यदि बाजार बदल रहा है या आपकी व्यक्तिगत परिस्थितियां बदल रही हैं; तो दोनों स्थिति में आपको अपने इंवेस्टमेंट को एडजस्ट करने की आवश्यकता हो सकती है।

डर को दूर करें और अपने इंवेस्टमेंट के साथ धैर्य रखें।

यह तो तय है कि शेयर मार्केट में उतार-चढ़ाव होगा ही; यदि आपके शेयरों की कीमत में गिरावट आती है, तो घबराएं नहीं; धैर्य रखें और अपने इंवेस्टमेंट में विश्वास रखें; क्योंकि यह सच है कि लंबी अवधि के लिए किए गए निवेश पर 99% रिटर्न की गारंटी होती है।

ऊपर दिए गए सुझाव शेयर मार्केट में नुकसान से बचने में मदद कर सकते हैं; इसलिए जब भी आप कहीं‌ निवेश करें; तो आप इन सुझाओं का अनुसरण जरूर करें।

इसे भी पढ़ें : शेयर मार्केट में 1 दिन में कितना कमा सकते हैं ?

क्या शेयर मार्केट में हर निवेश में नुकसान होता है?

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि आपको हर निवेश में नुकसान उठाना पड़े। कुछ निवेशक ऐसे हैं जिन्हें शेयर मार्केट से अच्छा-खासा रिटर्न मिलता है; और आपको भी मिल सकता है; लेकिन आप यह भी याद रखिएगा कि हर एक सिक्के दो पहलू होते हैं; मेरे कहने का मतलब कि शेयर मार्केट में निवेश करना जोखिम से खाली नहीं है; इसलिए नुकसान की संभावना हमेशा बनी रहती है।

शेयर मार्केट में नुकसान होने पर क्या करना चाहिए?

यदि आपको सचमुच शेयर मार्केट में नुकसान हो चुका है, तो आपको परेशान होने की बजाय शांत बने रहना चाहिए और आपको यह पता करना चाहिए कि आखिर आपको नुकसान हुआ तो क्यों हुआ; 
यदि आपको अपनी गलती दिखती है; तो आप उस गलती से सीख लेकर आगे बढ़िए; क्योंकि अगर आप नुकसान होने की वजह से शेयर मार्केट छोड़ देते हैं; तो यह आपका बहुत बड़ा नुकसान है; इसलिए मेरी मानिए आप अपनी गलती से सीखते रहिए; और इस बात को याद रखिए कि बिना गलती किए कोई शेयर मार्केट में सफल नहीं हुआ है।

निवेश करने के जोखिम को कम कैसे करें?

यदि आप निवेश करने के जोखिम को‌ कम करना चाहते हैं; तो इसके लिए आपको अपने पैसे को अलग-अलग कंपनी या एसेट्स में निवेश करें; क्योंकि ऐसा करने पर अगर कोई कंपनी बर्बाद हो जाती है; तो भी आपके पास अच्छी कंपनियों के शेयर्स आपके पास बचे रहेंगे।

Leave a Comment